BLOG

व्यंग्य

‘‘ बाढ़ में टीले पर बैठा आदमी’’ राष्ट्रीय आपदा है-बाढ़। पर्व के रूप में मनाते हैं लोग। हर साल जुलाई में आ जाती है। पहले तैयारी करते हैं, पर्व की तरह। राजस्थान में इस पर्व को कभी-कभार मनाया जाता है। बिहार और असम के साथ-साथ मुंबई में जोर-शोर से यह पर्व मनाया जाता है। बूढ़ी […]

BLOG

बाबाओं की बाबागिरी,हाय, हाय..?

            *दिनेश गंगराड़े, लोगो का तनाव दूर करते,करते बाबा खुद इतने तनाव में आ गए कि उन्होंने सूसाइड कर लिया,पढ़कर बेहद दुख व आश्चर्य हुआ।शोले फ़िल्म में एक देहाती दूसरे से पूछता है-भय्या ये सुसाइड क्या होता है?दूसरा कहता है-जब अंग्रेज मरते है तो उसे सोसाइड कहते है।ये अंग्रेज मरते क्यों है?इस बात का पता […]

BLOG

व्यंग्य

                ये आवाज उठाने वाले !                                     राजेंद्र बज             आवाज उठाना उनकी आदत है और इस आदत को वे कला समझते हैं। कलाकारी तो उनमें बचपन से ही विद्यमान थी लेकिन परिवार वालों की नजरों में वे महज निठल्ले ही थे। लिहाजा ज्यादा पढ़-लिख तो नहीं पाए किंतु राजनीति की गहरी समझ उनमें गजब […]

BLOG

व्यंग्य’

                 मुहूर्त का राजनीतिकरण हमारे देश में अब हर बात पर राजनीति होने लगी है,फिर उसका कुछ वजूद हो या ना हो।अब राम मंदिर का भूमिपूजन के  मुहूर्त को  भी राजनीति का रंग दिया जा रहा है। हद तो तब हो गई जब किसी ने कहा कि उस दिन  तो ’शुभ मुहूर्त’ है ही नहीें।जबकि […]

BLOG

व्यंग्य

अन्नदाता ! परीक्षा आयोजित करूं या नही? यह शिक्षक भी ना ,कुछ नहीं समझते , देश कोविड-19 से जूझ रहा है और इन्हें किताबे पढ़ाने की पड़ी है। संपूर्ण देश फर्स्ट फेज में लॉक डाउन हुआ |परीक्षाएं रद्द हुई। बहुत लोग चाहते थे कि परीक्षा ली जाए, कॉपी चेक हो ,तब रिजल्ट हो । वो […]

BLOG

व्यंग्य

दलबदल का वायरस नवेन्दु उन्मेष किफायती लाल मेरे शहर के नामीगिरामी नेताओं में शुमार हैं। वे विधायक से लेकर सांसद तक के ओहदे तक पहुंच चुके हैं। सुबह की सैर के वक्त मुझे मिल गये। हालचाल पूछने के बाद उन्होंने मुझसे कहा कि इनदिनों राजनीति के क्षेत्र में दलबदल वायरस हावी हैं। मुझे लगता है […]

BLOG

व्यंग्य

अब आया ऊंट पहाड़ के नीचे….? “महानायक, कोविड19के शिकार भए…!” पिछले100दिवस से विश्व में रोगों का शहंशाह  कोरोना छाया हुआ है।रज़िक सा वायरस दुनिया में महानायक की तरह सुपरहिट हो रहा है।कोरोना फ़िल्म हिट पर हिट हो रही हैं।दुनिया रूपी छबिगृह में फ़िल्म कोरोना की टिकिट की लाईन में लगे दर्शकों में अब तक साढ़े […]

BLOG

बिहार में चूहों की करतूत

बिहार न केवल अपने बाढ़ के लिए बल्कि हैरतअंगेज कारनामे करने वाले चूहों के लिए भी जाना जाता है। हर बार कुछ न कुछ उपद्रव करते ही रहते ही हैं। इनके कारनाओं की लिस्ट इतनी लंबी है कि बताते-बताते मेरे शब्द खत्म हो जायेंगे लेकिन इनकी करतूतें नहीं। हाल ही में बिहार के चूहों ने […]

BLOG

करोना में ख़ुश

वैसे तो लगता है कि पूरी दुनिया करोना से परेशान है,पर यदि दुनिया भर की जनसंख्या और करोना संक्रमित की संख्या पर नज़र डालेंगे तो देखेंगे कि ७०० करोड़ लोगों में डेढ़ करोड़ लोग करोना पॉज़िटिव हुए हैं,उनके ४-५ निकट सम्बन्धी भी परेशान होंगे तो लगभग ७ करोड़ लोग याने १% लोग परेशान हैं, बाक़ी […]

BLOG

व्यंग्य

 अपहरण को तैयार छिपे वे असल में मैं उनको कुछ दिनों से बराबर इसलिए ढूंढ रहा था कि हमारे मुहल्ले की सीवरेज इसके उसके उसमें से खाने के बाद भी उद्घाटन के लिए तैयार हो चुकी थी। अब वह कितने दिन चलेगी, यह बात दूसरी है। अब उनसे उसका श्रीगणेश करवाना था। वे उसका श्रीगणेश […]