लेख

समतामूलक राम और भूमि पूजन

आज अयोध्या में राम मंदिर भूमि पूजन की सर्वत्र चर्चा हो रही है ।लेकिन भगवान राम के जीवन चरित्र की नहीं ।भगवान राम द्वारा स्थापित उन आदर्शों को अपनाने का आह्वान नहीं किया जा रहा जिनके बल पर हम बेहतर समाज और राष्ट्र का निर्माण कर सकते हैं ।भगवान राम के शौर्य, त्याग, पुरुषार्थ, धर्मपरायणता, […]

लेख

“खाद्यान्न से भरा गोदाम और भुखमरी का दाग ” बोलो जय सिया राम ।।

जिस देश का एक पावं तरक्की के चांद पर पहुंचने को आतुर है वही दूसरा पांव  गरीबी के दलदल में गहरे फंसा हो तो इसके लिए गरीबी विषय पर ही शोध  के लिए दिया जाने वाला नोबेल पुरस्कार विशेष मायने रखता है। दोस्तों आज कोविड़ 19 से उपजी वैश्विक महामारी कोरोना वायरस से एक रिपोर्ट […]

लेख

मौलिक अप्रकाशित और प्रसारित

व्यंग्य  आपकी आपदा में उनके लिये अवसर वे बहुत बड़े आदमी हैं ।उनके जैसे और भी बहुत सारे बड़े आदमी हैं।ये सब के सब दूसरे के लिए आपदा पैदा करते हैं या उसके आपदा में पड़ने का इंतजार करते हैं या फिर उसे ऐसा ज्ञान देते हैं कि वह आपदा में पड़े ही पड़े ।असल […]

लेख

“”21वीं सदी में भारत की जरूरतों और चुनौतियों को पुरा करने में नई शिक्षा नीति सक्षम साबित होगी अगर क्रियान्वयन सही ढंग से हो तो “”

 दोस्तों देर से भले ही अाई नई शिक्षा नीति लेकिन दुरुस्त नजर आ रही है। यदि नई शिक्षा नीति का क्रियान्वयन ठीक से होगा तो भारत के जरूरतों और चुनौतियों को यह नई शिक्षा नीति पूरा कर सकती है। हमारे देश में 34 सालों के बाद नई शिक्षा नीति की घोषणा किया गया है, सबसे महत्वपूर्ण […]

लेख

“आ गया वायु सेना का सरताज घातक मिसाइलों से लैस राफेल”

 हमारे भारत माता की धरती को राफेल ने दोस्त फ्रांस से 7 हजार  किलोमीटर लंबी यात्रा के बाद बुधवार को आकर चूम लिया । यह 5 राफेल जो हमारे सेना में शामिल हुआ है इसमें 3 सिंगल सीटर और 2 सीटर ट्रेनर एयरक्राफ्ट है। दोस्तों यह फ्रांसीसी लड़ाकू विमान चीन और पाकिस्तान के दोहरे मोर्चे […]

लेख

पानी से पंगा मत लेना मानव

हम सभी देख रहे हैं कि आज  मानसून की शुरुआती बरसात के साथ ही देश के अनेक नगरों व गांवों में जल सैलाब के दृश्य उपस्थिस्त हो गया है । दोस्तों पिछले दिनों ही देश की राजधानी दिल्ली के सड़कों पर पानी जमा हो गया जिससे जीवन अस्त-व्यस्त हो गया और कुछ लोगों की मृत्यु […]

लेख

दानवीर सही भी हो ,जरूरी तो नहीं।

कर्ण की छवि आज भी भारतीय जनमानस में एक ऐसे महायोद्धा की है जो जीवनभर प्रतिकूल परिस्थितियों से लड़ता रहा। बहुत से लोगों का यह भी मानना है कि कर्ण को कभी भी वह सब नहीं मिला जिसका वह वास्तविक रूप से अधिकारी था। तर्कसंगत रूप से कहा जाए तो हस्तिनापुर के सिंहासन का वास्तविक […]

लेख

बाढ़ और कोरोना से निपटने में ट्रबल इंजन साबित हो रही बिहार सरकार

विगत 15 वर्षों बिहार में सत्तारूढ़ वर्तमान सरकार कोरोनावायरस संक्रमण से उत्पन्न महामारी और प्रत्येक वर्ष आनेवाले प्रलयंकारी बाढ़ से निपटने में पूरी तरह से विफल साबित हो रही है।इतने लंबे शासन के अनुभव और बिहार के एक के क्षेत्र के समस्याओं के बारे में जानकारी होने के बावजूद न तो प्रत्येक आनेवाले बाढ़ के […]

लेख

आखिर मध्यम वर्ग का गुनाह क्या है ?

मध्यम वर्ग वह है, जो अपनी परंपराओं व रूढ़ियों से मुक्त नहीं होना चाहता और पाश्चात्यीकरण का पक्षधर है अर्थात् ऐसा वर्ग जो ना पूरी तरह से गरीब है और ना ही पूर्णतया अमीर , वह शिक्षित भी है और विकासोन्मुख भी रहना चाहता है । जिसमें वह ना पूरी तरह जीतता है और ना […]

लेख

सबसे सुस्पष्ट सर्वश्रेष्ठ संस्कृत भाषा

                          यदा यदा ही धर्मस्य ग्लानिर्भवति भारत। अभ्युत्थानं धर्मस्य तदाऽऽऽत्मानं सृजाम्यहम्‌।। परित्राणाय साधूनां विनाशाय च दृषकृताम्‌। धर्मसंस्थापनार्थाय सम्भवि युग – युगे।।               वर्षों पूर्व दूरदर्शन पर और हाल ही लॉकडाउन के कारण दुबारा टी वी प्रसारित धारावाहिक ` महाभारत ´ की नामावली के अंत में यह श्लोक दर्शकों को सुनाई पड़ता था तो संस्कृत भाषा […]