आस पास

15 मई से 16 जुलाई तक एम्स के आधे डॉक्टर छुट्टी पर

नई दिल्ली । 16 मई से अगले दो महीने तक एम्स में गर्मियों की छुट्टियों की वजह से लगभग आधे डॉक्टर नहीं होंगे। करीब 50 पर्सेंट डॉक्टर एकसाथ छुट्टी पर जा रहे हैं। इससे फॉलोअप मरीजों को दिक्कत हो सकती है। जो मरीज 16 मई से 15 जुलाई के बीच इलाज के लिए एम्स आनेवाले हैं, उन्हें पता कर लेना चाहिए कि उनका इलाज करनेवाले डॉक्टर हैं या नहीं। मरीजों की परेशानी को देखते हुए एम्स प्रशासन ने दो फेज में डॉक्टरों की छुट्टी मंजूर की है। एम्स प्रशासन के सर्कुलर के अनुसार, पहले फेज में 16 मई से 14 जून और दूसरे फेज में 16 जून से 16 जुलाई तक छुट्टी मंजूर की गई है। लगभग 60 दिनों तक एम्स में आधे डॉक्टरों की उपलब्धता का असर सर्जरी पर होगा। सर्जरी का इंतजार कर रहे मरीजों को और दिन रुकना पड़ सकता है। एम्स में हार्ट, न्यूरो, ऑर्थो जैसे विभागों में कई साल की वेटिंग है। ऐसे में अगर आधे डॉक्टर एकसाथ 60 दिन तक छुट्टी पर होंगे तो निश्चित तौर पर यह इंतजार और लंबा हो सकता है। सर्कुलर के अनुसार, कार्डियोलॉजी में 6 फैकल्टी पहले फेज में छुट्टी पर होंगी। दूसरे फेज में तीन छुट्टी पर जाएंगे। हार्ट सर्जरी विभाग के 3 डॉक्टर पहले फेज में और 5 दूसरे फेज में छुट्टी पर जाएंगे। इसी तरह न्यूरोलॉजी में 6 डॉक्टर पहले और इतने ही दूसरे फेज में जाएंगे। न्यूरोसर्जरी के 12 डॉक्टर पहले और 11 दूसरे फेज में छुट्टी पर रहेंगे। कैंसर के 15 डॉक्टर पहले और 10 डॉक्टर दूसरे फेज में, गेस्ट्रोलॉजी के 4 पहले और 4 दूसरे फेज में छुट्टी पर जाएंगे। ट्रॉमा सेंटर, जहां इमरजेंसी मरीजों को इलाज मिलता है, वहां भी 16 डॉक्टर पहले और इतने ही दूसरे फेज में छुट्टी पर रहेंगे। एम्स का कहना है कि यह हर साल होता है और मरीजों के इलाज पर असर नहीं हो, इसका पूरा ख्याल रखा जाता है।
15 मई 2019

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *