notinuse1

राजस्व अभिलेखों एवं भुईयां साफ्टवेयर में डेटा अपडेशन का अभियान शुरू

बिलासपुर । जिले में राजस्व अभिलेखों एवं ऑनलाईन भुईयां साफ्टवेयर में डेटा अपडेशन करने हेतु अभियान चलाया जा रहा है। कलेक्टर डॉ.संजय अलंग ने हल्का पटवारियों के माध्यम से संपादित किये जाने वाले इस कार्य को सर्वाेच्च प्राथमिकता से करने का निर्देश दिया है। उल्लेखनीय है कि आम जनता को भुईयां साफ्टवेयर के माध्यम से राजस्व अभिलेखों की त्रुटिरहित ऑनलाईन जानकारी एवं नकल उपलब्ध कराने के लिये राजस्व एवं आपदा प्रबंधन विभाग द्वारा निर्देश जारी किये गये हैं। हल्का पटवारियों को वर्ष २०१६-१७ में प्रत्येक ग्राम के खसरा पांचसाला एवं बी-१ प्रिंट कर ऑनलाईन भुईयां साफ्टवेयर के डेटा मिलान हेतु उपलब्ध कराया गया था साथ ही खसरा एवं बी-१ की डिजिटल हस्ताक्षरयुक्त नकल की ऑनलाईन व्यवस्था हेतु भुईयां साफ्टवेयर डेटा का डिजिटल हस्ताक्षर टोकन के माध्यम से सत्यापन करने के निर्देश भी दिये गये थे। वर्तमान में लगभग ९० प्रतिशत खसरा की डिजिटल हस्ताक्षरयुक्त प्रति ऑनलाईन उपलब्ध है। साफ्टवेयर में शत-प्रतिशत सही जानकारी उपलब्ध नहीं होने से आम जनता को शासन से मिलने वाली योजनाओं का लाभ नहीं मिलता है। इसको ध्यान में रखते हुये प्रदेश के मुख्यमंत्री द्वारा भुईयां साफ्टवेयर के डेटा को शत-प्रतिशत त्रुटिरहित करने के निर्देश दिये गये हैं। शासन से प्राप्त निर्देशानुसार ३० सितंबर २०१९ तक राजस्व अभिलेख का भुईयां साफ्टवेयर के डेटा को अद्यतन करने, गिरदावली एवं राजस्व प्रकरणों के निराकरण हेतु आवश्यक जांच प्रतिवेदन का कार्य हल्का पटवारी द्वारा प्राथमिकता से किया जायेगा और इसकी नियमित समीक्षा कलेक्टर द्वारा प्रत्येक सप्ताह की जायेगी।
मनोज
४.००
०६ जून २०१९

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *