व्यापार

जेट एयरवेज की दिवाला समाधान प्रक्रिया की तारीख बढ़कर 21 अगस्त

नई ‎दिल्ली । कोरोना वायरस की वजह से लागू लॉकडाउन के चलते निजी क्षेत्र की विमानन कंपनी जेट एयरवेज की दिवाला समाधान प्रक्रिया को पूरा करने की समयसीमा को 21 अगस्त 2020 तक बढ़ा दिया गया है। यह कदम ऐसे समय उठाया गया है जबकि ठप खड़ी एयरलाइन के लिए नए सिरे से बोलियां मांगी गई हैं। पूर्ण विमानन सेवा कंपनी जेट एयरवेज का परिचालन मार्च, 2019 से बंद है। अभी एयरलाइन कॉरपोरेट दिवाला समाधान प्रक्रिया (सीआईआरपी) के तहत है। इसे पूरा करने की समयसीमा 13 जून तय की गई थी। शेयर बाजारों को दी जानकारी में कहा गया है कि सीआईआरपी की समयसीमा की गणना में लॉकडाउन की अवधि 24 मार्च से 31 मई तक के 69 दिनों को शामिल नहीं किया जाएगा। कोरोना वायरस महामारी पर काबू के लिए 24 मार्च को राष्ट्रव्यापी बंद की घोषणा की गई थी। अब तक इसे तीन बार बढ़ाया जा रहा है। अब यह 31 मई तक है। शेयर बाजारों को को भेजी सूचना में कहा गया है कि इससे जेट एयरवेज की सीआईआरपी पूरी होने की समयसीमा अब 21 अगस्त हो गई है। एयरलाइन का पंजीकृत कार्यालय मुंबई में है, जहां लॉकडाउन 24 मार्च से लागू है। राष्ट्रीय कंपनी विधि अपीलीय न्यायाधिकरण (एनसीएलएटी) ने मार्च में कहा था कि केंद्र और राज्य सरकारों की बंद की अवधि को सीआईआरपी की गणना से अलग रखा जाएगा।
सतीश मोरे/23मई

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *