मनोरंजन

घर की महिलाओं की अहमियत समझें

 शो ‘मेरे साईं – श्रद्धा और सबुरी’, साईं की बहन चंदा बोरकर की कहानी दिखा रहा है, जिनके पति ज्ञान की खोज करने के लिए अपने परिवार को छोड़ देते हैं, क्योंकि वे अपने परिवार के प्रति अपने कर्तव्यों को अपने मार्ग में अड़चन मानते हैं। साईं बाबा का रोल निभा रहे तुषार दल्वी कहते हैं, “महिलाओं को अपनी जिंदगी के हर कदम पर तकलीफों का सामना करते देखकर वाकई दुख होता है। इस शो की वर्तमान कहानी दर्शकों को यह याद दिलाती है कि वो अपने घर की महिलाओं की अहमियत समझें और उनका ख्याल रखें।”, “मैं व्यक्तिगत तौर पर यह मानता हूं कि महिलाओं के लिए खुद को साबित करना कभी भी आसान नहीं रहा। लेकिन वो पुरुषवादी समाज में पुराने रीति-रिवाजों से लड़ते हुए आगे बढ़ रही हैं, और इसमें हम सभी को उनका साथ देना चाहिए।