व्यापार

अगले पांच साल में मछली पालन से नौ अरब डॉलर जुटा सकती है सरकार

कोलकाता (ईएमएस)। केंद्रीय मत्स्य पालन सचिव राजीव रंजन ने कहा कि भारत मछली पालन क्षेत्र में अगले पांच वर्षों में नौ अरब डॉलर (65 हजार करोड़ रुपए से ज्यादा) का निवेश जुटा सकता है, साथ ही बड़ी संख्या में लोगों को रोजगार भी मिल सकता है। उन्होंने हाल ही में इंडियन चैंबर ऑफ कॉमर्स के ई-सम्मेलन में कहा कि मछली निर्यात इस समय 46,589 करोड़ रुपये है और ये 2024-25 तक दोगुने से अधिक बढ़कर एक लाख करोड़ रुपए तक हो सकता है। उन्होंने कहा ‎कि सरकार ने अगले पांच वर्षों में मछली पालन क्षेत्र में नौ बिलियन अमरीकी डॉलर के निवेश का लक्ष्य तय किया है। बताया जा रहा है ‎कि इस लक्ष्य को पाने के लिए प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना (पीएमएमएसवाई) को तैयार किया गया है और केंद्र सरकार 2024-25 तक मछली उत्पादन को 138 लाख टन से बढ़ाकर 220 लाख टन तक करने का प्रयास कर रही है। रंजन ने कहा कि इन कदमों का रोजगार सृजन पर भी महत्वपूर्ण प्रभाव पड़ेगा और 2024-25 तक इस क्षेत्र में 55 लाख लोगों को रोजगार मिलने की उम्मीद है, जो फिलहाल 15 लाख है।
सतीश मोरे/22नवंबर