मध्य प्रदेश

भोपाल मंडल ने कमाया ‎रिकार्ड 82.89 करोड़ राजस्‍व


कोरोना काल में रेलवे ने ‎किया माल परिवहन
भोपाल (ईएमएस)। भोपाल रेल मंडल ने दिसंबर 2020 में रिकार्ड 82.89 करोड़ राजस्‍व कमाया, जो 2019 की इसी अवधि की तुलना में 21.33 फीसद अधिक है। रेल मंडल ने यह कमाई ऐसे समय में बढ़ाई है, जब कोरोना संक्रमण से लोग गुजर रहे हैं और व्यवस्थाएं बेपटरी है। फिर भी लगातार मंडल में राजस्व बढ़ाने की कवायद चल रही है। भोपाल मण्डल द्वारा माल एवं पार्सल यातायात को रेलवे की तरफ आकर्षित करने के लिए माल व पार्सल सेवा से जुड़े ग्राहकों, व्यापारियों को बेहतर सेवाएं दी जा रही है। ट्रेनों से अपनी सामग्री का परिवहन करवाने वाले व्यापारी और किसान रेलवे के पार्सल कार्यालयों में जाकर अग्रिम बुकिंग भी करा सकते हैं। रेलवे ने यह व्यवस्था शुरू कर दी है इसके तहत संबंधित किसानों और व्यापारियों के माल की अग्रिम बुकिंग होने से उनका स्थान सुरक्षित हो जाता है बाद में संबंधित पार्सल ट्रेन के फुल होने की दिक्कत नहीं रहती है एनवक्त पर बुकिंग कराने के कारण जब स्पेस खत्म हो जाता है, तो देरी से जगह मिलती है। कोरोना संक्रमण काल में रेलवे ने व्यापारी, उद्योगपति और किसानों के माल को एक से दूसरे स्थान पर पहुंचाने के लिए बेहतर सेवा दी है। यही वजह है कि भोपाल रेल मंडल ने माल परिवहन करके संक्रमण के दौर में भी रिकॉर्ड कायम किया है। इसमें रेल कर्मियों की मेहनत महत्वपूर्ण रही है।वरिष्ठ मंडल वाणिज्य प्रबंधक विजय प्रकाश के अनुसार, वाणिज्य अधिकारियों व कर्मचारियों द्वारा आपसी समन्वय से प्रयास करते हुए माल परिवहन से जुड़े बड़े और छोटे व्यापारियों से संपर्क किया जा रहा है। उन्हें रेलवे बोर्ड द्वारा लागू की गईं विभिन्न प्रोत्साहन योजनाओं की जानकारी दी जा रही है। रेलवे के जरिये अधिकाधिक माल का परिवहन करने के लिए प्रेरित किया जा रहा है। इसी का नतीजा है कि भोपाल रेल मंडल ने दिसम्बर में 2020 में माल परिवहन के जरिए 82.89 करोड़ की आय अर्जित की है जबकि 2019 में इसी माह की अर्जित आय 68.32 करोड़ रुपए थी। इस तरह 21.33 प्रतिशत अधिक कमाई हुई।
सुदामा नर-वरे/14जनवरी2021