ताज़ा खबर

रेलवे ने ‘सोनार बांग्ला’ अभियान में बड़ा योगदान देकर खुद को सुदृढ़ किया: रेलमंत्री पीयूष गोयल


नई दिल्ली (ईएमएस)। केंद्रीय रेल, वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री पीयूष गोयल ने विभिन्न स्थानों पर गणमान्य व्यक्तियों की उपस्थिति में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से उत्तर बंगाल क्षेत्र में विभिन्न बुनियादी ढांचा विकास और यात्री सुविधा संबंधी परियोजनाएं राष्ट्र को समर्पित की। इस दौरान भारत सरकार में महिला और बाल विकास राज्य मंत्री सुश्री देबश्री चौधरी भी अन्य गणमान्य व्यक्तियों के साथ उपस्थित रहीं। पीयूष गोयल ने कहा कि रेलवे बहुत असाधारण तरीके से राष्ट्र की सेवा कर रहा है। सोनार बांग्ला के अभियान में बहुत समय तक योगदान देकर रेलवे ने खुद को सुदृढ़ किया है। पश्चिम बंगाल में तीन साल में रेलवे का पूरी तरह से विद्युतीकरण हो जाएगा और सभी चालू परियोजनाओं को जल्द से जल्द पूरा किया जाएगा। उन्होंने यह भी कहा कि उत्तर बंगाल प्राकृतिक रूप से सुंदर है। इस क्षेत्र का विकास अधिक पर्यटकों को आकर्षित करेगा। भारतीय रेलवे क्षेत्र के समग्र विकास के लिए प्रतिबद्ध है। आज राष्ट्र को समर्पित न्यू जलपाईगुड़ी से न्यू कूचबिहार तक का 126 किलोमीटर का नया विद्युतीकृत खंड रेलवे विद्युतीकरण कार्य का एक हिस्सा है, जो कि भारतीय रेल नेटवर्क के 100 फीसदी विद्युतीकरण के लिए चल रहा है। यह खंड पूर्वोत्तर राज्यों की ओर ट्रेन संचालन के लिए महत्वपूर्ण है। विद्युतीकरण से इस क्षेत्र में निरंतर प्रगति हो रही है और मालवाहक और यात्री ट्रेनों को कम कार्बन उत्सर्जन के साथ पर्यावरण के अनुकूल बना संचालित किया जा सकता है। 287 करोड़ की लागत वाली यह परियोजना जीवाश्म ईंधन की खपत में भारी बचत करेगी। 2018 के बजट में पूरे पूर्वोत्तर सीमा रेलवे के विद्युतीकरण कार्य को मंजूरी दी गई थी और इसे दिसंबर, 2023 तक पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है।
बांग्लादेश के सीमावर्ती हल्दीबाड़ी स्टेशन का निर्माण भविष्य में इस क्षेत्र के आर्थिक विकास की जरूरत को देखते हुए किया गया है। 26 कोच क्षमता वाले नए स्टेशन में मालवाहक ट्रेनों की दो लाइन के अलावा तीन यात्री प्लेटफार्म हैं। नए सर्कुलेटिंग एरिया निर्माण, रनिंग रूम, सिग्नल प्रणाली जैसे अन्य कार्यों के साथ ही हल्दीबाड़ी में नए स्टेशन भवन का पूरा निर्माण 82.72 करोड़ रुपये की लागत से किया गया है। इस मार्ग में ट्रेन संचालन में सुरक्षा बढ़ाने के लिए हल्दीबाड़ी और जलपाईगुड़ी स्टेशनों पर इलेक्ट्रॉनिक इंटरलॉकिंग की सुविधा भी प्रदान की गई है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना ने 17 दिसंबर 2020 को प्रधानमंत्री स्तर के एक वर्चुअल द्विपक्षीय शिखर सम्मेलन के दौरान भारत के हल्दीबाड़ी और बांग्लादेश के चिलाहाटी के बीच रेलवे लिंक का उद्घाटन किया था। गंगारामपुर, पश्चिम बंगाल के दक्षिण दिनाजपुर जिले का एक महत्वपूर्ण शहर है। स्थानीय लोगों की लंबे समय से चली आ रही मांग को पूरा करते हुए यहां के स्टेशन को करीब 9.09 करोड़ की लागत से आधुनिक इलेक्ट्रॉनिक इंटरलाकिंग और उच्चस्तरीय प्लेटफार्म वाले एक क्रॉसिंग स्टेशन में बदला गया है।
संदीप सिंह/देवेंद्र/ईएमएस/नई दिल्ली/22/फरवरी/2021