लेख

12 जनवरी स्वामी विवेकानंद जयंती विशेष।

55 क्विंटल 8 तरह के अनाज से 8 हजार वर्गफीट पर बनी स्वामी विवेकानंद जी की कलात्मक तस्वीर। हेमन्त मोराने। हरदा के युवाओं ने कर दिया कमाल ! जिले का नाम विश्व पटल की अलौकिक किस्सों की पुस्तक कही जाने वाली वर्ल्ड बुक ऑफ रिकार्ड में नाम दर्ज हो गया है जहाँ कला के क्षेत्र […]

लेख

” सबसे पहले अपने ऊपर शासन करना सीखो “

   देखो जो व्यक्ति अपने क्रोध पर काबू नहीं पाता है ,क्रोध उस व्यक्ति पर ही अक्सर काबू पा लेता है । एक बार तो क्रोधी व्यक्ति को शेख सादी ने भी आधा पागल व्यक्ति कहा था ,जबकि मै तो क्रोधी व्यक्ति को पूरा ही पागल समझता हूं ,लेकिन  कभी कभी देश और समाज हित मे […]

लेख

नया साल एक चुनौती है जो हमें आगे बढ़ने के लिये ललकार रही है !

 कटु अनुभवों के साथ वर्ष 2020 का अब अंत हो गया , कोरोना महामारी ने भारत समेत पूरी दुनियां को प्रभावित किया है ,अब हम सब नए साल 2021 में नई उम्मीद के साथ नई शुरुआत आज से करने के लिए उत्सुक हैं।दोस्तों नया वर्ष आ गया जाहिर सी बात है,  जब कुछ नया आता […]

लेख

लंबी लड़ाई की तैयारी

कृषि कानूनों पर सरकार और किसान संगठनों के बीच जारी खींचतान का दौर जल्द खत्म होने वाला नहीं है। सरकार की योजना आंदोलनरत किसान संगठनों को वार्ता की पेशकश करते रहने के साथ इन कानूनों के समर्थन में अभियान जारी रखने की है। इस बीच जरूरत पडऩे पर सरकार बातचीत का समर्थन करने वाले किसान […]

लेख

मोतीलाल वोराः बड़े आदमी

20 दिसंबर को कांग्रेस के नेता श्री मोतीलाल वोरा का 93 वाँ जन्म दिन था और 21 दिसंबर को उनका निधन हो गया। वे न तो कभी राष्ट्रपति बने और न ही प्रधानमंत्री लेकिन क्या बात है कि लगभग सभी राजनीतिक दलों ने उनके महाप्रयाण पर शोक व्यक्त किया ? यह ठीक है कि वे […]

लेख

भाजपा और ममता में टक्कर

पश्चिम बंगाल के डायमंड हार्बर इलाके में भाजपा अध्यक्ष जगत नड्डा और भाजपा प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय के काफिले पर जो हमला हुआ, उसमें ऐसा कुछ भी हो सकता था, जिसके कारण ममता बनर्जी की सरकार को भंग करने की नौबत भी आ सकती थी। यदि नड्डा की कार सुरक्षित नहीं होती तो यह हमला जानलेवा […]

लेख

किसान बचें नेताओं से

किसान नेताओं को सरकार ने जो सुझाव भेजे हैं, वे काफी तर्कसंगत और व्यवहारिक हैं। किसानों के इस डर को बिल्कुल दूर कर दिया गया है कि न्यूनतम समर्थन मूल्य खत्म होनेवाला है। वह खत्म नहीं होगा। सरकार इस संबंध में लिखित आश्वासन देगी। कुछ किसान नेता चाहते हैं कि इस मुद्दे पर कानून बने। […]

लेख

आबादी को बढ़ने से रोकें

यदि भारत में जनसंख्या की रफ्तार जो आजकल है, वह बनी रही तो कुछ ही वर्षों में वह चीन को मात कर देगा। इस समय चीन से सिर्फ तीन-चार करोड़ लोग ही हमारे यहां कम हैं। भारत की आबादी इस वक्त एक अरब 40 करोड़ के आस-पास है। चीन ने यदि कई वर्षों तक हर […]

लेख

उच्च शिक्षा स्वभाषाओं में ?

शिक्षा मंत्री डा. रमेश पोखरियाल निशंक ने आज घोषणा की है कि उनका मंत्रालय उच्च शिक्षा में भारतीय भाषा के माध्यम को लाने की कोशिश करेगा। बच्चों की शिक्षा भारतीय भाषाओं या मातृभाषाओं के माध्यम से हो, यह तो नई शिक्षा-नीति में कहा गया है और कोठारी आयोग की रपट में भी इस नीति पर […]

लेख

आलेख

निराशा में आशा की किरण है प्रेरणा    मुकेश पोपली  प्रेरणा का सीधा सा अर्थ है किसी को हिम्‍मत बंधाना।  यदि इसकी गूढ़ता में जाया जाए तो हम यह पाते हैं कि हमारे जीवन में अनेक ऐसे क्षण आते हैं जब अच्‍छे से अच्‍छा इंसान भी हिम्‍मत हारने लगता है और ऐसे में यदि उसको प्रेरणा […]