साहित्य

नायर अस्पताल में रेजिडेंट डॉक्टर पर हमला

मुंबई, )। डॉक्टरों की सुरक्षा को लेकर भले ही सरकार लाख दावा करे मगर उनपर हमले की घटना थम नहीं रही है. एक बार फिर सरकारी डॉक्टरों पर हमले की घटना सामने आई है. मुंबई महानगरपालिका द्वारा संचालित नायर अस्पताल में रेजिडेंट डॉक्टर पर हमले का मामला सामने आया है. प्राप्त जानकारी के अनुसार, रविवार […]

साहित्य

पर्यावरण संरक्षण के लिये पेड़ लगाना जरूरी: डॉ.अलंग

० बिलासपुर क्लब परिसर में वृक्षारोपण बिलासपुर। बिलासपुर क्लब परिसर में आज कलेक्टर डॉ.संजय अलंग ने वृक्षारोपण किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि पर्यावरण संरक्षण एवं हरा-भरा बनाये रखने के लिये वृक्षारोपण जरूरी है। गुरू पूर्णिमा के अवसर पर 16 जुलाई को जिले में वृहद पैमाने पर वृक्षारोपण किया जायेगा। कलेक्टर डॉ.अलंग ने नागरिकों से […]

साहित्य

किचन में वक्त बिताना अच्छा लगता है : रिशीना कंधारी

मुंबई। इशारों इशारों में की अभिनेत्री रिशीना कंधारी का कहना है कि किचन में कूकिंग और बेकिंग करते हुए वक्त बिताना अच्छा लगता है। शो ‘इशारों इशारों में की टीम ने हाल ही में अपने दूसरे प्रोमो की शूटिंग की। इस प्रोमो में पूरा परिवार और आस-पड़ोस के लोग योगी (अभिनेता मुदित नायर) के जन्मदिन […]

साहित्य

लघुकथा

नवीन पाठ … पिछले एक डेढ़ महीने से इंग्लैंड में क्रिकेट का विश्वकप चल रहा है । आज भारत और न्यूजीलैंड के बीच सेमीफाइनल मैच था पूरा देश मैच उत्सुकता से देख रहा था । मैच के आरंभ में न्यूजीलैंड खेल चुकी थी । अब भारत वेटिंग करने हेतु उतरा और उसके चार विकेट दस […]

साहित्य

फोर्टिस वसंत कुंज द्वारा नई ऑर्थोपिडिक एवं नेफ्रोलॉजी ओपीडी की शुरुआत

ग्वालियर : दिल्ली.एनसीआर तथा पष्चिमी उत्तर प्रदेश में मरीज़ों को सेवाएं प्रदान करने के 14 साल के लंबे अनुभव के बादए फोर्टिस वसंत कुंज ने कैलाश अस्पताल के सहयोग से ग्वालियर में ऑर्थोपिडिक एवं नेफ्रोलॉजी ओपीडी का सफल आयोजन किया। ग्वालियर में हर महीने के पहले बुधवार को ऑर्थोपिडिक और नेफ्रोलॉजी ओपीडी ग्वालियर वासियों के […]

साहित्य

हिन्दी के साथ विश्व में कहीं भी कोई कठिनाई नही

संविधान सभा में देवनागरी में लिखी जाने वाली हिन्दी को राजभाषा का दर्जा दिया गया है। स्वाधीनता आन्दोलन के सहभागी रहे हमारे नेता जिनके प्रयासो से हिन्दी को राजभाषा के रूप में स्वीकार किया गया आखिर क्यो चाहते थे कि हिन्दी केन्‍द्र और प्रान्तों के बीच संवाद की भाषा बने? स्पष्ट है कि वे एक […]

साहित्य

नुसरत मामले में जैन कितने अनुदारवादी

जैन धर्म वैदिक,सनातन या हिन्दू परम्परा से इसीलिए पृथक हुआ था की हिन्दुओं के धार्मिक कार्यक्रमों में बलि प्रथा /हिंसा का प्रादुर्भाव होने से जैन धर्म या श्रमण संस्कृति का उद्गम हुआ .हिन्दू धर्म के चौबीस अवतारों में तीन अवतार जैन हुए हैं ऐसी मान्यता हैं .दूसरी बात जैन २४ तीर्थंकर हुए वे सब क्षत्रीय […]

साहित्य

अशांति का कारण होती हैं कामनाएं

वर्तमान समय में अधिकांश मनुष्य विचारों के नाकारात्मक प्रभाव के वशिभूत है। यही वजह है कि संपूर्ण विश्व कहीं न कहीं युद्ध के कगार पर खड़ा नजर आ रहा है। भारतीय ही नहीं दुनिया के नेताओं और धार्मिक शक्तियों के विचारों में सामंजस्यता नजर नहीं आ रही है। वर्तमान समाज में मानव कहां जा रहा […]

साहित्य

रोहिंग्या को खुली आजादी तो हिन्दुओं का पलायन क्यों?

हिंदू परिवारों के पलायन का मसला एक बार फिर यूपी में सियासत और मीडिया की सुर्ख़ियां बना है। लेकिन इस बार नाम के साथ स्थान भी परिवर्तित है। अबकी कैराना नहीं मेरठ का प्रहलाद नगर है। हालांकि सारे हालात तीन साल पूर्व कैराना जैसे ही हैं। पलायन की खबर से राज्य की योगी सरकार की […]

साहित्य

ऑफिस में ज्यादा रुकने से प्रॉडक्टिविटी हो रही कम

-ज्यादा रुके रहने का चलन 2010 से बढ़ा लंदन । साल 2019 में यूके के चार्टर्ड इंस्टिट्यूट ऑफ पर्सनेल ऐंड डिवेलपमेंट (सीआईपीडी) के एक सर्वे में यह बात सामने आई है कि ऑफिस में जरूरत से ज्यादा रुके रहने का चलन 2010 से बढ़ा है। ऑफिस ऑफ नैशनल स्टैटिस्टिक्स के डेटा से भी यह बात […]