मनोरंजन

धार्मिक धारावाहिकों के मशहूर लेखक विकास कपूर फिल्म ‘चल जीत ले जहाँ’ से फिल्म निर्देशक बने

18 साल बाद अब एक्टर आशिम खेत्रपाल (शिरडी साई बाबा फेम) की वापसी फिल्म चल जीत ले जहाँ‘ से

मुंबई। फिल्म ‘शिरडी साईबाबा’ में एक्टिंग करनेवाले एक्टर आशिम खेत्रपाल की वापसी 18  साल बाद फिल्म ‘चल जीत ले जहाँ’ से हो रही है। जोकि शारीरिक रूप से विकलांग राष्ट्रीय क्रिकेट टीम के क्रिकेटरों के जीवन पर ओरिएंट ट्रेडलिंक लिमिटेड,व्हिस्टलिंग ट्रेन प्रोडक्शन,गौरव जैन के बैनर तले निर्माता राजा कंवर और ॐ स्पोर्टेन्मेंट प्राइवेट लिमिटेड द्वारा बनाई जा रही है। जिसके पांचों गाने गायक सुखविंदर, सुनिधि चौहान,शंकर महादेवन, अमित मिश्रा, आशिम खेत्रपाल व श्रेया घोषाल की आवाज़ में रिकॉर्ड किये गए हैं। फ़िल्म की शूटिंग उतराखंड में शुरू हो गईं है, जोकि 20 दिनों तक चलेगी। धार्मिक धारावाहिक और फिल्मों के मशहूर लेखक विकास कपूर इस फिल्म को निर्देशित करेंगे, जोकि पहली बार फिल्म निर्देशन की फील्ड में लोगो को अपना जौहर दिखाएंगे। 

                  आशिम खेत्रपाल फिल्मों में वापसी और फिल्म के बारे में कहते है,” इस फिल्म में मैं एक क्रिकेट कोच की भूमिका निभा रहा हूँ, जोकि बहुत की अच्छा रोल है। जब हमलोग शिरडी साईं बाबा फाउंडेशन व जॉनसन अधीन हिताची के ‘रेडियंट इन क्वेस्ट ऑफ़ गोल्ड’ ने पैरालम्पिक कमेटी ऑफ इंडिया (पीसीआई) के 10 पैरा एथलीट्स को ट्रेंड करने की जिम्मेदारी ली थी, उसी समय मैं उनलोगों से काफी प्रभावित हुआ और शारीरिक रूप से विकलांग क्रिकेट टीम के क्रिकेटरों के ऊपर फिल्म बनाने की सोचा, श्री विकास कपूर ने फिल्म की कहानी पर लंबे समय तक मेहनत की तब जाकर अब इसकी शूटिंग करने जा रहे है।यह फिल्म मेरे साथ सभी को प्रभावित करेगी।”   

       व्हिस्टलिंग ट्रेन प्रोडक्शन के डायरेक्टर राकेश गुप्ता कहते है,” हम लोग हमेशा सामाजिक , देश की संस्कृति और सभ्यता व समाज से जुड़े विषय या लोंगो से जुड़े मुद्दों पर सहयोग करते है और जुड़ते है।यह फ़िल्म बहुत ही अच्छे सब्जेक्ट पर बन रही है। इस कारण हमलोग जुड़े है।”

        शिरडी साईबाबा फ़िल्म के लिये राष्ट्रपति पुरस्कार पा चुके लेखक विकास कपूर ने ‘ॐ नमः शिवाय’,’ श्री गणेश’,’जय संतोषी माँ’,’साई भक्तों की सच्ची कहानियां’,’श्रीमद् भागवत महापुराण’ आदि धार्मिक सीरियलों का लेखन करने के बाद पहली बार इस फिल्म से फिल्म निर्देशन के छेत्र में कदम रख रहे है।विकास कपूर इस फिल्म के बारे में कहते है,”शारीरिक रूप से विकलांग क्रिकेट टीम के वर्ल्ड कप जीतकर आये पांच क्रिकेटर इसमें फ़िल्म में पहली बार अभिनय करेंगे, आज कल रियल्टी सिनेमा का दौर है और इससे अधिक रियल कुछ नहीं हो सकता कि इसमें दिव्यांग क्रिकेट टीम के सभी प्लेयर रियल हैं। इसका गीत- संगीत काफी अच्छा है,  यह एक अलग तरह की फिल्म है, जोकि हमलोग बड़े दिल से बना रहे है। सच में मैं ओशिमजी और अपने निर्माताओं का शुक्रगुजार की उन्होंने मुझे इस विषय को निर्देशित करने का अवसर दिया।”      

 फिल्म ‘चल जीत ले जहाँ’ के लेखक व निर्देशक विकास कपूर है, संगीतकार अमर देसाई, गीतकार-शेखर अस्तित्व कैमेरामैन राकेश रोशन सिंह और कोरिओग्राफर सागर दास है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *