इंदौर

अहिल्या माता गौशाला पर सैकड़ों गौ भक्तों ने किया पितरों के लिए तर्पण, गौ वंश की सेवा –

इन्दौर । केसरबाग रोड़ स्थित प्राचीन अहिल्या माता गौशाला जीवदया मंडल ट्रस्ट एवं गौ सेवा भारती के तत्वावधान में आज सोमवती अमावस्या एवं शनि जयंती के संयोग में शहर के गौभक्तों ने गौशाला परिसर पहुंच कर वैदिक ब्राम्हणों के निर्देशन में शास्त्रोक्त विधि से पितरों को जलांजलि, तर्पण एवं गौसेवा का पुण्य लाभ उठाया। करीब तीन घंटे चले इस अनुष्ठान में 300 से अधिक गौ भक्तों ने उत्साह से भाग लिया।
गौशाला प्रबंध समिति के अध्यक्ष रवि सेठी, सचिव पुष्पेंद्र धनोतिया, सी.के. अग्रवाल ने बताया कि गौशाला परिसर में त्रिवेणी अर्थात बड़, पीपल एवं नीम के वृक्ष के नीचे तर्पण तथा गौमाता के पूजन के लिए विशेष प्रबंध किए गए थे। परिवार में सकारात्मक ऊर्जा एवं नवग्रह शांति के लिए सुबह से ही गौ भक्तों का आगमन शुरू हो गया था। संस्था गौ सेवा भारती के महामंत्री राजेंद्र असावा ने बताया कि इस अवसर पर वैश्य महासम्मेलन, भारत विकास परिषद, रामद्वारा छत्रीबाग, अग्रवाल, माहेश्वरी एवं पोरवाल सहित अनेक समाजों के प्रतिनिधि उपस्थित थे जिन्होने पितृ दोष निवारण, अशुभ गृहों के प्रभाव दूर करने तथा अपने पितरों के लिए तर्पण अनुष्ठान में भाग लिया। देश के लिए शहीद हुए जाबांज सैनिकों की आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना के बाद गौ सेवा भी की गई। इस अनुष्ठान के लिए गौ शाला ट्रस्ट की ओर से सभी सुविधाएं निशुल्क उपलब्ध कराई गई। प्रत्येक माह की अमावस्या पर यह अनुष्ठान जारी रहेगा। गुरूवार 6 जून को गौशाला परिसर मंे निर्मित प्रदेश के एक मात्र सप्त गौमाता मंदिर का वास्तु पूजन प्रसंग भी सुबह 10 से सांय 4 बजे तक रखा गया है।
उमेश/पीएम/03 जून 2019

संलग्न चित्र- देवी अहिल्या गौशाला केसरबाग रोड़ पर शनि जयंती एवं सोमवती अमावस्या पर तर्पण एवं गौ सेवा करते गौ भक्त।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *