इंदौर

पात्र विद्याथियों का शिक्षा के अधिकार के तहत प्रवेश देने के निर्देश –

इन्दौर । कलेक्टर लोकेश कुमार की अध्यक्षता में आज कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में विभागीय समन्वय समिति की बैठक आयोजित की गई। इस अवसर पर कलेक्टर जाटव ने सभी अधिकारियों से कहा कि सीएम हेल्पलाइन, जनसुनवाई और टीएल के प्रकरण 15 दिन में निराकृत करें। उन्होने कहा कि राज्य शासन से प्राप्त पत्रों का समय-सीमा में जबाव भेजना जरूरी है। उन्होने कहा कि सीएम हेल्पलाइन के 75 प्रतिशत प्रकरण एल-1 पर ही निराकृत हो जाना चाहिए। कलेक्टर ने बैठक में शिक्षा, स्वास्थ्य, नगरीय प्रशासन, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग, कृषि आदि विभागों की बिंदुवार समीक्षा की।
कलेक्टर ने बैठक में किसानों को खाद-बीज उपलब्ध कराने, अमानक खाद-बीज बेचने वालों के खिलाफ कानूनी कार्यवाही करने और आगंनवाड़ी केन्द्रों में नियमित रूप से पोषण आहार वितरित करने के निर्देश दिये। स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा के दौरान उन्होने कहा कि सभी गर्भवती माताओं के प्रसव अस्पतालों में होना चाहिए। इसी प्रकार स्वास्थ्य केन्द्र और आगंनवाड़ी केन्द्र में बच्चों का नियमित टीकाकरण जरूरी है। बैठक में मलेरिया उन्मूलन अभियान, क्षय उन्मूलन अभियान और परिवार नियोजन कार्यक्रम की समीक्षा की गई। बैठक में खाद्य विभाग की बीपीएल पात्रता पर्ची जारी करने और दुकानविहीन पंचायतों में उचित मूल्य की दुकान खोलने के निर्देश दिये गये।
बैठक में मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्रीमती नेहा मीना ने कहा कि महू क्षेत्र में मुहिम चलाकर आदिवासियों को वनाधिकार पट्टे वितरित किये जायेगें। अजा-जजा वर्ग के विद्याथियों का एसडीएम द्वारा शीघ्र जाति प्रमाण पत्र जारी किये जायेंगे। शिक्षा के अधिकार के तहत निजी विद्यालयों में इसी माह प्रवेश दिया जायेगा। बैठक में अपर कलेक्टर दिनेश जैन, कैलाश वानखेड़े और विभागीय अधिकारी मौजूद थे।
उमेश/पीएम/01 जुलाई 2019

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *