मध्य प्रदेश

असाधारण बच्चों के लिए राष्ट्रीय बाल भवन में केंद्र स्थापित करने के निर्देश दिए ‘निशंक’ ने

नई दिल्ली । असाधारण बच्चों के लिए राष्ट्रीय बाल भवन में केंद्र स्थापित करने के निर्देश दिए केन्द्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ ने दिए है। उन्होंने गुरुवार को स्कूली शिक्षा और साक्षरता विभाग को राष्ट्रीय बाल भवन में ‘प्रतिभावान बच्चों के लिए एक केंद्र’ स्थापित करने को कहा है। मानव संसाधन एवं विकास (एचआरडी) मंत्रालय की एक स्वायत्त इकाई के तहत आने वाली इस संस्था का पोखरियाल ने दौरा किया जिसके बाद यह घोषणा की गई। मंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अभिनव शिक्षण कार्यक्रम के तहत बाल भवन में प्रतिभावान बच्चों का एक केंद्र बनना चाहिए। केंद्रीय मंत्री डॉ. रमेश पोखरिया निशंक ने गुरुवार को राष्ट्रीय बाल भवन संस्था का औचक निरीक्षण किया और स्कूली शिक्षा एवं साक्षरता विभाग को अभिनव शिक्षण कार्यक्रम के तहत ‘प्रतिभाशाली बच्चों के लिए केंद्र’ स्थापित करने को कहा। मानव संसाधन विकास मंत्री डॉ. निशंक ने राष्ट्रीय बाल भवन में बच्चों के कौशल को विकसित करने, कला और शिल्प, संगीत, नृत्य, विज्ञान, संग्रहालय तकनीक, शारीरिक शिक्षा के क्षेत्र में उनकी रचनात्मक क्षमताओं का विस्तार करने के लिए मनोरंजक गतिविधियों का संचालन कर रहा है। इस केंद्र का उद्देश्य बच्चों को कला, गायन, संगीत, नृत्य, आदि के क्षेत्र में विभिन्न राष्ट्रीय स्तर के नामचीन कलाकारों के साथ अनुभव साझा करने के लिए विभिन्न अवसरों और एक साझा मंच प्रदान कर बच्चों की रचनात्मक क्षमता को बढ़ाना है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *