देश

गुरूनानक का जीवन मानवता के लिये एक बड़ा संदेश:सरदार इकबाल सिंह

अलीगढ़ अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के आधुनिक भारतीय भाषा विभाग में गुरू नानक साहब के 550वें जयंती के मौके पर भारतीय भाषा और साहित्य पर गुरू नानक देव का प्रभाव विषय पर विशेष व्याख्यान माला का आयोजन किया गया।
इस व्याख्यान माला के प्रमुख अतिथि के तौर पर अलीगढ़ के गुरूद्वारा के मुख्य सचिव सरदार इकबाल सिंह प्रमुख अतिथि के रूप में उपस्थित थे। अतिथि के तौर पर इसी गुरूद्वारा प्रधान के पुत्र कमलजीत सिंह उपस्थित थे। गुरू नानक देव जी के विचार व कार्यों पर प्रकाश डालन के लिये मुख्य वक्ता के तौर पर इन्दरप्रीत कौर उपस्थित थीं। इस अवसर पर प्रमुख अतिथि के तौर पर विचार व्यक्त करते हुए सरदार इकबाल सिंह जी ने गुरू नानक के जीवन को मानवता के लिये एक बड़ा संदेश बताया व उससे सभी को शिक्षा लेने की प्रेरणा दी।
कमजलीत सिंह द्वारा भी गुरू नानक को ब्रह्यन्ड के महान पुरूषो में उनकी गिनती की व उनके महान कार्यों से परिचित कराया। इन्दरजीत कौर ने उनके जीवन का खाका प्रस्तुत किया व एक ईश्वर एक मानवता का आधार बनाया व गुरू नानक को आज के युग की प्रासंगिकता के तौर पर प्रस्तुत किया।
व्याख्यान माला की अध्यक्षता करते हुये प्रो. क्रांतिपाल (प्रभावी पंजाबी सेक्शन) ने गुरू नानक को सच्चे नाम को प्रचारित करने वाला बताया।
मलयालम भाषा के प्रो. टीएन सतीशन, कश्मीरी भाषा के प्रो. मुश्ताक अहमद जरगर व बंगाली भाषा की डा. अमीना खातून ने भी गुरू नानक के जीवन व कार्यों पर प्रकाश डाला। इस व्याख्यान माला में छात्र व छात्राओं ने भी विचार व्यक्त किया। जिसमें पंजाबी विभाग के लनप्रीत सिंह, कश्मीरी भाषा विभाग के शोधार्थी तनवीर ने भी गुरू नानक देव के उपदेशों पर अपने विचार व्यक्त किये। व्याख्यान माला की शुरूआत कुरान की तिलावत से की गई। व्याख्यान माला का संचालन डा. ताहिर पठान द्वारा किया गया। इस व्याख्यान माला में विभिन्न भाषाओं के छात्र व छात्रायें बड़ी संख्या में उपस्थित थे।
गोविन्द/09नवंबर/

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *