देश

चाइल्ड लाइन व्् महिला हेल्पलाइन ने मिलकर रुकवाया बाल विवाह

अलीगढ़ । उड़ान सोसाइटी द्वारा संचालित चाइल्ड लाइन की पहल पर दो सगी बहनों का देवोत्थान एकादशी के अवसर पर होने वाले बाल विवाह को रोकने में सफलता मिली है।
प्राप्त जानकारी के अनुसार चाइल्ड लाइन के कार्यालय पर प्रेमपाल निवासी ग्राम महौ तहसील हाथरस जंक्शन हाथरस ने फोन पर सूचना दी मेरा मेरी पत्नी से छ: माह से विवाद चल रहा है तथा वह अपनी बड़ी बेटी के पास सांकरा में रहती है। मेरी पत्नी मेरी दो नाबालिग बेटियों की शादी देवोत्थान एकादशी के दिन ग्राम भवन खेड़ा में कर रही है। प्रेमपाल ने इस सम्बन्ध में बालिकाओं के आधार कार्ड भी चाइल्ड लाइन की टीम को उपलब्ध कराये। चाइल्डलाइन की समन्वयक शिरीन राजेंद्र ने लिखित में बाल कल्याण समिति अलीगढ़ को तत्काल इसकी सूचना उपलब्ध करायी। जिसके उपरांत बाल कल्याण समिति द्वारा चाइल्ड लाइन एवं महिला हेल्प लाइन को विवाह रोकने हेतु आवश्यक कार्यवाही के निर्देश देते हुए थानाध्यक्ष थाना दादों एवं हरदुआगंज को भी मामले में विधिनुसार कार्यवाही करने हेतु पत्र जारी किया। इसके उपरान्त चाइल्ड लाइन एवं महिला हेल्प लाइन की टीम सात नवम्बर को थाना हरदुआगंज की पुलिस टीम के साथ गाँव भवन खेड़ा पहुँची जहाँ होने वाले वर, जो स्वयं भी नाबालिग थे, के पिता एवं अन्य गवाहों से ग्राम प्रधान तहसीलदार खान की मौजूदगी में बालकों के बालिग हो जाने तक विवाह न करने का वचन पत्र लिखवा कर लिया द्य साथ ही दोनों पक्षों को आठ नवम्बर को बाल कल्याण समिति के समक्ष प्रस्तुत होने को कहा। आज देवोत्थान एकादशी के दिन दोनों पक्ष ने समिति के समक्ष उपस्थित होकर इस आशय के नोटरी शपथपत्र प्रस्तुत किये कि जब तक दोनों होने वाले वर वधु बालिग नहीं हो जाते तक तक इनका विवाह नहीं किया जायेगा।
गोविन्द/09नवंबर/

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *