देश

डूंगरपुर में पैंथर ने 3 ग्रामीणों पर किया हमला, घरों में कैद हुए लोग

डूंगरपुर। जिले के दोवड़ा थाना इलाके के कोलखंडा गांव में एक पैंथर ने जमकर हंगामा ‎किया है। बता दें ‎कि पैंथर ने 1 घंटे में करीब दो बार ग्रामीणों पर हमला बोला, जिसमें 3 लोग घायल हो गए। ‎जिन्हें डूंगरपुर अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। हालां‎कि इस इलाके में पैंथर पूर्व में भी मवेशियों को अपना शिकार बना चुके हैं। बताया गया ‎कि कोलखंडा निवासी ललित परमार रात को शौच करने के लिए खेतों की ओर गया था। उसी दौरान झाड़ियों के बीच छिपकर बैठा पैंथर निकला और ललित पर पीछे से हमला कर दिया। अचानक हुए हमले के बावजूद ललित ने हिम्मत दिखाई और एक बार पैंथर को नीचे पटक दिया। इसके बाद उसने चिल्लाना शुरू कर दिया। बता दें ‎कि पैंथर ने उस पर पंजे से कई हमले किए, जिसमें वह गंभीर रूप से घायल हो गया। इसके बाद पैंथर वहां से भाग गया। इस घटना के बाद गांव में दहशत फैल गई और लोग एकत्रित हो गए। इसके बाद करीब 1 घंटे तक पैंथर लोगों को नजर नहीं आया। लेकिन रात को मजदूरी कर मोटरसाइकिल से घर लौट रहे दो लोगो पर फिर से हमला ‎किया। ले‎किन अचानक हुए इस हमले से वे कुछ समझ ही नहीं पाए और पैंथर ने दोनों को गंभीर रूप से घायल कर दिया। बता दें ‎कि इस हमले में बाइक सवार कोलखंडा निवासी लालचंद परमार और बसंत परमार गंभीर घायल हो गए। इस दौरान उनके सिर, हाथ, पैर और शरीर पर कई जगह चोटें आई। वहीं हमले के बाद अंधेरा होने के कारण पैंथर गायब हो गया। घायलों को डूंगरपुर अस्पताल लाकर भर्ती कराया गया है, जहां उनका इलाज जारी है। इस घटना के संबंध में पूर्व सरपंच ईश्वरलाल परमार ने बताया कि गांव के आसपास के इलाके में करीब तीन से चार पैंथर हैं जो अक्सर दिखाई देते हैं। वे पूर्व में भी गांव के भेड़ बकरियों को शिकार कर चुके हैं। इस बारे में वन विभाग के अधिकारियों को भी अवगत करवाया गया है, लेकिन लोगों की सुरक्षा को लेकर कोई इंतजाम नहीं किए गए हैं।
ज्योति/ 03 ‎दिसम्बर 2019

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *