देश

शाला स्वच्छता कार्यक्रम पर आयोजित हुई कार्यशाला

नरसिंहपुर। शाला स्वच्छता कार्यक्रम के अंतर्गत जिले की सभी शासकीय शालाओं एवं शाला परिसरों को साफ- सुथरा बनाये रखकर उनकी स्वच्छता सुनिश्चित करने के उद्देश्य से डाईट परिसर में जिला स्तरीय उन्मुखीकरण कार्यशाला का आयोजन किया गया। कार्यशाला में स्वच्छता से जुड़ी सुविधाओं की दृष्टि से एक एवं दो स्टार वाली शालाओं को अपग्रेड कर तीन एवं चार स्टार वाली शालाओं में परिवर्तित करने के लिए विकासखंड स्तरीय अधिकारियों को प्रशिक्षण दिया गया।
कार्यशाला के शुरू में जिला शिक्षा अधिकारी एके इंगले ने सभी विकासखंड स्तरीय अधिकारियों से शालाओं की स्वच्छता सुनिश्चित करने के लिए संवेदनशील होकर पूरी सक्रियता से कार्य करने की बात कही। उन्होंने मेरी शाला मेरी जिम्मेदारी के अनुसार सभी स्वच्छता सुविधाओं को सुनिश्चित करने के लिए शिक्षकों एवं विद्यार्थियों की क्षमतावर्धन पर जोर दिया। सहायक परियोजना समन्वयक जिला शिक्षा केन्द्र योगेश गुप्ता ने इस दिशा में हर संभव प्रयास करने पर जोर दिया।
राज्य शिक्षा केन्द्र एवं यूनिसेफ की सहयोगी संस्था राईजिंग आर्यावर्त वेलफेयर सोसायटी- रॉस इंडिया के प्रतिनिधि अमित कुमार दधिच तथा देवेन्द्र उपासनी ने स्वच्छ विद्यालय के महत्व, इसके घटक, आगामी रणनीति, बाल केबिनेट, शाला प्रबंधन समिति की क्षमतावर्धन एवं रेट्रोफिटिंग के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी दी। उन्होंने शाला स्वच्छता कार्यक्रम के उद्देश्यों पर प्रकाश डाला। रॉस इंडिया के आशीष पटैल एवं मनोज चौरसिया ने स्कूल विजिट का ब्यौरा प्रस्तुत किया। उन्होंने बताया कि इस दिशा में कैसे कार्य किया जायेगा। कार्यशाला में सभी बीआरसी, बीएसी, उपयंत्री, स्वच्छ भारत मिशन एवं लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी के ब्लाक समन्वयक शामिल हुये।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *