साहित्य

लघुकथा

नवीन पाठ …

पिछले एक डेढ़ महीने से इंग्लैंड में क्रिकेट का विश्वकप चल रहा है । आज भारत और न्यूजीलैंड के बीच सेमीफाइनल मैच था पूरा देश मैच उत्सुकता से देख रहा था । मैच के आरंभ में न्यूजीलैंड खेल चुकी थी । अब भारत वेटिंग करने हेतु उतरा और उसके चार विकेट दस ओवर से पहले ही कम रनों के रहते आउट हो गए । तब ही अचानक हमारे शहर के एक हिस्से से पटाखे चलने लगे । इसके बाद भारत के दो खिलाड़ी कुछ जमकर वेटिंग करने लगे तो हमारे मौहल्ले के लोग हो- हल्ला करते हुए पटाखे चलाने लगे तभी अचानक भारत के दो विकेट फिर गिर जाते हैं तो दूसरे मौहल्ले से फिर पटाखों की आवाज आने लगती है । अंत में भारत संघर्ष करते हुए मैच हार जाता है और उस दूसरे मौहल्ले में फिर तो मानों दीपावली ही मन गई हो। पर इस हार-जीत के उतार-चँढाव वाले इस मैच से तो मुझे ऐसा लगा कि मैं कक्षा में अध्ययन कर रहा हूँ और मेरे अध्यापक हमें उदाहरण दे-देकर ‘राष्ट्रीयता और अराष्ट्रीयता’ का पाठ पढ़ा रहे हो और बता रहे हो कि ये पाठ अति महत्वपूर्ण है परीक्षा में आ सकता है जरा ध्यान से पढ़ना ।

                           – व्यग्र पाण्डे

         कर्मचारी कालोनी, गंगापुर सिटी, स.मा.

           (राज.) 322201         मोबाइल नंबर- 9549165579

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *